Monday, 25 March 2019, 3:43 AM

धर्म कर्म

जैन आचार्य का केश लोचन आज

Updated on 24 March, 2014, 20:31
आगरा। रामलीला मैदान में रविवार से गूंजने लगे भगवान महावीर के जयघोष। सभी को दिया जियो और जीने तो का संदेश। क्योंकि इसी से ही मानव जीवन का भला हो सकता है। ताजगंज स्थित चिंतामणि पाश्‌र्र्वनाथ दिगंबर जैन मंदिर का वेदी प्रतिष्ठा महोत्सव रविवार से रामलीला मैदान में शुरू हो गया,... आगे पढ़े

जल को पावन मां गंगा ने ही बनाया

Updated on 23 March, 2014, 21:03
हरिद्वार। जब जल की बात आती है तो सबसे पहले गंगा जल का नाम आता है, क्योंकि जल को पावन मां गंगा ने ही बनाया है। भारत रत्‍‌न बिस्मिल्लाह खां ने कहा है कि गंगा और संगीत एक-दूसरे के पूरक हैं। खां साहब को जब जर्मनी से ससम्मान आमंत्रण आया... आगे पढ़े

ढोलक पूजा के साथ फाग का समापन

Updated on 23 March, 2014, 21:02
झारसुगुड़ा। झारसुगुड़ा शहर में गत 135 वर्षो से जारी फाग की परंपरा निरंतर चली आ रही है, होलिका दहन के तीन बाद ढोलक पूजा का आयोजन कर फाग का समापन किया जाता है। इस क्रम में इस वर्ष भी झंडा चौक स्थित शिव मंगल महाराज लेन स्थित स्व. प्रभु शंकर अवस्थी... आगे पढ़े

वैष्णो देवी मंदिर के बाद उत्तर भारत के किसी मंदिर का सबसे बड़ा बजट

Updated on 23 March, 2014, 21:00
पटना। महावीर मंदिर न्यास समिति ने 147 करोड़ का बजट पारित किया है। महावीर मंदिर न्यास समिति द्वारा संचालित होने वाले महावीर मंदिर, विराट रामायण मंदिर, महावीर कैंसर संस्थान, महावीर वात्सल्य, महावीर आरोग्य संस्थान, रामायण विश्वविद्यालय के लिए 147 करोड़ का बजट रखा गया है। महावीर मंदिर का बजट वैष्णो देवी... आगे पढ़े

आस्था के प्रतीक का आरोहण

Updated on 23 March, 2014, 20:59
देहरादून। आस्था एवं विश्वास का उत्सव। ऐतिहासिक दरबार साहिब में लाखों श्रद्धालु झंडेजी के सम्मान में शीश नवाए खड़े हैं। झंडेजी को चढ़ाने की प्रक्रिया आरंभ हो चुकी है और गूंजने लगे हैं गुरु महाराज के जयकारे। सज्जादानसीन श्रीमहंत देवेंद्रदास महाराज के हाथों विजय एवं सम्मान के प्रतीक झंडेजी का... आगे पढ़े

शीतला माता के हाथ में झाड़ू और कलश क्यों होता है?

Updated on 23 March, 2014, 11:47
चैत्र कृष्णपक्ष अष्टमी तिथि को महाशक्ति के एक प्रमुख रूप शीतलामाता की पूजा पुराने समय से की जाती रही है। लेकिन कुछ स्थानों पर सप्तमी के दिन शीतला पूजन और बसौरा पर्व मनाया जाता है। यह 23 मार्च को है जबकि शीतलाष्टमी 24 मार्च सोमवार के दिन है। शास्त्रों के अनुसार... आगे पढ़े

सुबह उठकर करें श्री कृष्ण का बताया एक काम, दिन बन जाएगा

Updated on 22 March, 2014, 15:31
दिल्ली : दिन की शुरुआत जैसी होती है उसका असर आपके पूरे दिन के काम पर होता है। इसलिए जरुरी है कि आप दिन की शुरुआत इस तरह से करें कि सब कुछ आपके अनुकूल हो जाए। आप जो भी काम करें उसमें आपको सफलता मिलती जाए। इसके लिए आपको कोई... आगे पढ़े

सिख इसलिए नहीं खाते तंबाकू, जानेंगे तो आप भी तौबा करेंगे

Updated on 22 March, 2014, 15:30
दिल्ली : याद करके देखिए कभी आपने किसी सिख को तंबाकू खाते देखा है। दिमाग पर जोर डालने पर भी शायद ही कोई याद आए। दरअसल बात यह है कि सिख तंबाकू खाते ही नहीं हैं। इसका कारण यह है कि जब गुरु गोविंद सिंह जी ने 1699 में खालसा पंथ... आगे पढ़े

क्या हुआ जब उस स्त्री के स्नान करते समय आ गए श्री कृष्ण

Updated on 22 March, 2014, 15:29
दिल्ली : यह कथा उन दिनों की है जब महाभारत युद्घ की स्थिति बनने लगी थी। भगवान श्री कृष्ण उन दिनों पाण्डवों की ओर से धृतराष्ट्र के दरबार में पधारे। दुर्योधन ने श्री कृष्ण के संधि प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया। नाराज हो कर भगवान श्री कृष्ण ने दुर्योधन के घर... आगे पढ़े

पाक ग्रंथागार में संस्कृत हिदीं की 8671 पांडुलिपि

Updated on 21 March, 2014, 21:27
वृंदावन। धर्माचार्य और इतिहासवेत्ता जानते हैं कि पाकिस्तान के लाहौर शहर को भगवान राम के पुत्र लव ने बसाया था। वहां सनातन धर्मियों ने हजारों साल तक वैष्णव धर्म का झंडा फहराया। प्रमाण स्वरूप लाहौर के पंजाब विश्वविद्यालय में 8671 संस्कृत-हिंदी की पांडुलिपियां पुस्तकालय में आज भी सुरक्षित हैं। हालांकि... आगे पढ़े

ब्रह्मोत्सव: सूर्यप्रभा व हंस की सवारी निकली बढ़ी रथ मेला की रंगत

Updated on 21 March, 2014, 21:26
वृंदावन। रंगजी मंदिर ब्रह्मोत्सव के तहत गुरुवार सुबह सूर्यप्रभा तथा रात्रि को हंस की सवारी निकाली गई। सवारी में सवार श्री गोदारंगमन्नार ने भक्त और श्रद्धालुओं को दर्शन दिए। श्रीगोदा रंगमन्नार के दर्शन को रास्ते में लोग लालियत दिखाई दिए। नगरवासी सवारी के स्वागत में पुष्पवर्षा करते रहे। साथ चल रहे... आगे पढ़े

अब हर दिन एक मिनट ज्यादा देर तक दिखेगा सूर्यदेव

Updated on 21 March, 2014, 21:22
मथुरा। आज शुक्रवार को दिन-रात बराबर होंगे। यानि 12 घंटे का दिन, तो 12 घंटे की रात होगा। 22 मार्च से सूर्यदेव हर दिन एक मिनट ज्यादा दर्शन देंगे और यह सिलसिला अगले तीन महीने तक चलेगा। सूर्य घड़ी और हमारी घड़ियों में चार मिनट का अंतर है। प्रकृति इस... आगे पढ़े

लोगों के सहयोग से मनेगा बुढ़वा मंगल

Updated on 21 March, 2014, 21:21
वाराणसी। उत्सवों पर्वो की नगरी काशी का प्राचीन जल उत्सव बुढ़वा मंगल चुनावी आचार संहिता के दंगल में फंस गया है। इसके लिए सरकार के संस्कृति मंत्रलय से फूटी कौड़ी नहीं मिलेगी। ऐसे में अपनी थाती के संरक्षण के लिए काशीवासियों को ही दिल बड़ा करना होगा। प्रशासन सुरक्षा आदि... आगे पढ़े

होली खेले रघुबीरा अवध में.

Updated on 21 March, 2014, 21:20
वाराणसी। रामजानकी मठ अस्सी में गुरुवार को खूब अबीर गुलाल उड़े और ब्रज की होरी गूंजी। मौका था संत पंजाबी भगवान की आठवीं पुण्यतिथि पर आयोजित होली मिलन समारोह का। संतों की टोली एक दूसरे पर अबीर गुलाल और फूल बरसाई। संगीतमय धुन में 'आज बिरज में होरी खेलत हो रसिया.',... आगे पढ़े

जब पता चला पत्नी का यह राज वह संन्यासी बन गया

Updated on 20 March, 2014, 18:04
दिल्ली : आमतौर पर देखने में यह आता है कि पत्नी अगर किसी और को पसंद करने लगे तो व्यक्ति पत्नी के प्रेमी और पत्नी को नुकसान पहुंचाने की सोचने लगता है। कई मामलों में तो पत्नी की बेवफाई व्यक्ति को गुनाह के दलदल तक पहुंचा देती है। लेकिन यह एक... आगे पढ़े

अध्यात्म और ईश्वर का मर्म

Updated on 20 March, 2014, 14:52
आध्यात्मिकता का अर्थ है उस चेतना पर विश्वास करना, जो प्राणधारियों को एक दूसरे के साथ जोड़ती है, सुख-संवर्धन और दु:ख-निवारण की स्वाभाविक आकांक्षा को अपने शरीर या परिवार तक सीमित न रख अधिकाधिक व्यापक बनाती है. अध्यात्म का सीधा अर्थ आत्मीयता के विस्तार के रूप में किया जा सकता है.... आगे पढ़े

होली: प्यार के रंगों का पर्व

Updated on 19 March, 2014, 15:18
होली मुक्त व स्वच्छंद हास-परिहास का त्योहार है। नाचने-गाने, हंसी-ठिठोली और मौज-मस्ती की त्रिवेणी है होली। सुप्त मन की कंदराओं में पड़े ईष्र्या-द्वेष, राग-विराग जैसे कलुषित व गंदे विचारों को तन-मन से सदा के लिए निकाल बाहर फेंकने का सबसे सुंदर अवसर भी है होली। लगता है कि दुर्भावनाओं और... आगे पढ़े

चैतन्य महाप्रभु का जयंती महोत्सव मना

Updated on 19 March, 2014, 15:17
वृंदावन। पत्थरपुरा स्थित बड़ी सूरमाकुंज में भगवान श्री चैतन्य महा प्रभु का जयंती महोत्सव विभिन्न वैदिक और धार्मिक कार्यक्त्रमों के साथ मनाया गया। श्री चैतन्य महा प्रभु के श्रीविग्रह का पंचामृत से महाभिषेक कराया गया, विशिष्ट श्रंगार कर पूजा-पाठ किया गया। विराजमान ठा.श्रीराणानयनानंद महाराज का फूलडोल सजाकर उनकी झांकी सजायी गई।... आगे पढ़े

होली पर मनाते हैं महाचाट सम्मेलन

Updated on 19 March, 2014, 15:16
नई दिल्ली। जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय में होली मनाने का अंदाज बिल्कुल जुदा है। यहां छात्र सामूहिक होली तो खेलते ही हैं, साथ ही महाचाट सम्मेलन का आयोजन होता है। पिछले 30 साल से जेएनयू में यह सम्मेलन मनाया जा रहा है। होली के एक दिन पहले वाली रात को शुरू... आगे पढ़े

कहते हैं भारत के इस चर्च में तीन भूतों का बसेरा है

Updated on 18 March, 2014, 21:30
चर्च में ही अपना घर बनाए बैठे हैं भूत आपने सुना होगा कि भूत प्रेत भगवान से डरते हैं। जहां पर ईश्वर का ध्यान किया जाता है उस जगह के आस-पास भूत भटकने का साहस भी नहीं कर पाते हैं। लेकिन तीन ऐसे भूत हैं जो बेखौफ चर्च में ही अपना घर... आगे पढ़े

वृंदावन में बनेगा 700 फीट ऊंचा श्रीकृष्ण मंदिर

Updated on 17 March, 2014, 8:40
नई दिल्ली। देश में अब तक का सबसे विशाल, भव्य और ऊंचा मंदिर वृंदावन में भगवान श्रीकृष्ण का बनाया जाने वाला है। 213 मीटर ऊंचे वृंदावन चंद्रोदय मंदिर की आधारशिला छोटी होली के पावन अवसर पर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव 16 मार्च को वृंदावन में रखेंगे। ये मंदिर कुतबमीनार से भी... आगे पढ़े

बदरीनाथ राजमार्ग पर खतरे के बादल

Updated on 17 March, 2014, 8:40
गोपेश्वर । इस बार भगवान बदरी-विशाल की डगर भक्तों की परीक्षा लेगी। बीते वर्ष जून में आई जल प्रलय से छलनी बदरीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर सफर किसी चुनौती से कम नहीं है। ऋषिकेश से बदरीनाथ तक लगभग तीन सौ किलोमीटर लंबी सड़क पर सीमा सड़क संगठन (बीआरओ) ने 50 से... आगे पढ़े

भांग पीवे तौ जल्दी आ

Updated on 16 March, 2014, 12:07
मथुरा। होली की मस्ती हो और चतुर्वेदी समाज में भंग का रंग न चढ़े यह कैसे हो सकता है। इसके बिना तो होली का आनंद ही अधूरा रह जाएगा। इसके बगैर तो सत्कार भी नहीं हो सकेगा। जैसे-जैसे होली निकट आ रही है अखाड़े भी इसके रंग में सराबोर हो... आगे पढ़े

होली आई रे.होली में पानी नहीं, गुलाल संग खुशियां लुटाएं

Updated on 16 March, 2014, 12:00
वाराणसी। मौज-मस्ती व खुशियों के रंगों का त्योहार यानी होली लो आ गई लेकिन जरा संभल कर मनाएं पर्व। इस फागुनी बयार में पानी नहीं अबीर व गुलाल उड़ाकर खुशियां लुटाएं। रंगभरी एकादशी से रंगों का त्योहार होली की शुरुआत होती है। साथ ही शुरू होता है एक दूसरे को रंगों... आगे पढ़े

ब्रज में गुलाल के बादल, रंगों का बह रहा दरिया

Updated on 16 March, 2014, 11:59
मथुरा। हिलोर भरता मस्ती का समंदर, खुशबू फैलाते बरसते फूल, झूम कर झोके लेती बसंती बयार। चहुंओर उड़ रहे गुलाल के बादल, जगह-जगह बह रहा रंगों का दरिया। ढप, ढोलक, झांझ मजीरों की सुरीली धुन पर इठलाती गेहूं की बालियां। गाने, बजाने, रंगने के आनंद में पकवानों की महक। जिस जहां... आगे पढ़े

श्रीश्री ने ध्यान-मौन की शक्ति बताई, भरा अनुराग

Updated on 16 March, 2014, 11:57
वाराणसी। लाखों की भीड़, सभी उन्मुक्त, विकार न लिप्सा, बस यही इच्छा कि जीवन शांतिपूर्ण रहे, सौहार्द की गाथा कहे। उन्नति हो-तरक्की हो, मान बढ़े-सम्मान बढ़े, निराशा खत्म हो, आशा को बल मिले, आनंद की अनुभूति हो, अपनेपन का अहसास हो। कुछ ऐसे ही मनोभावों को डीरेका इंटर कालेज के... आगे पढ़े

बेहद उल्लासभरी होती थी 100 साल पहले दून की होली

Updated on 15 March, 2014, 12:55
देहरादून। सौ साल पहले देहरादून की होली बेहद उल्लास भरी हुआ करती थी। खासतौर पर शमशेरगढ़ और बालावाला में झुम्मालाला का ढप वादन तरंगे पैदा कर देता था। सफेद कुर्ता-पायजामा और टोपी पहनकर होल्यार घर-घर जाते थे। खासतौर पर देहातों में 'देहरे की होली' प्रसिद्ध थी। होल्यार घर-घर जाकर होली... आगे पढ़े

होलिका चिंताओं की, होली भस्मी चिताओं की

Updated on 15 March, 2014, 12:53
वाराणसी। एक ओर जलते शव दूसरी तरफ होलिका चिंताओं की। क्या धरती और क्या अंबर सब लाल गुलाल और इनसे एकाकार हुई भस्मी चिताओं की जो बाबा के मस्तक पर चढ़ी और निहाल हो गई। उनके गणों के भावों से मिली, हर हर महादेव के घोष रूप में हवा में... आगे पढ़े

राकेट बरसाएगा रंग, डोरेमॉन करेगा तंग

Updated on 15 March, 2014, 12:52
इलाहाबाद। होली को अब चंद दिन ही शेष रह गए हैं। पारंपरिक रंग, अबीर-गुलाल के साथ ही इस बार होली कुछ ज्यादा ही आधुनिक नजर आ रही है। बाजार की रंगत बता रही है कि इस बार रंगों का यह त्योहार कुछ खास होगा। चाहे वह टोपी हो या पिचकारी,... आगे पढ़े

क्या है होली पूजन विधि, कैसे करें इस साल होली पूजन

Updated on 14 March, 2014, 12:05
[प्रीति झा] होली हिंदू धर्म के प्रमुख त्योहारों में से एक है। यह त्योहार फाल्गुन मास की पूर्णिमा को मनाया जाता है। इस बार 16 मार्च [रविवार] को होलिका दहन और 17 मार्च [सोमवार] को रंगों वाली होली है। होली की शाम को होलिका का पूजन किया जाता है। होलिका... आगे पढ़े

मूवी रिव्यू

राशिफल